श्री लक्ष्मी चालीसा

श्री लक्ष्मी चालीसा || चौपाई || सिन्धु सुता मैं सुमिरौ तोही । ज्ञान बुद्घि विघा दो मोही ॥ तुम समान नहिं कोई उपकारी । सब विधि पुरवहु आस हमारी ॥ जय जय जगत जननि जगदम्बा । सबकी तुम ही हो अवलम्बा ॥ तुम ही हो सब घट घट वासी । विनती यही हमारी खासी ॥ जगजननी जय सिन्धु कुमारी । दीनन की तुम हो हितकारी ॥ विनवौं नित्य तुमहिं महारानी […]

इक्यावन  शक्तिपीठो इक्यावन  शक्तिपीठो

इक्यावन शक्तिपीठ तन्त्रचूडामणि में पीठों की संख्या बावन दी गई है, शिवचरित्र में इक्यावन और देवीभागवत में एक सौ आठ। कालिकापुराण में छब्बीस उपपीठों का वर्णन है। देवीपुराण में ५१ शक्तिपीठों का वर्णन है। पर साधारणतया पीठों की संख्या इक्यावन मानी जाती है। इनमें से अनेक पीठ तो इस समय अज्ञात हैं।सती के शव के विभिन्न अंग और आभूषण गिरे, वहाँ बावन शक्तिपीठो का निर्माण हुआ। मुंबई से कोल्हापुर सीधे […]

आपके मूलांक के लिए कैसा होगा नया साल २०१४

२०१४ मूलांक १- १ मूलांक वालों का स्वामी सूर्य है वहीं वर्ष का अंक ५ है। इनमें आपसी मित्रता है अत: यह वर्ष आपके लिए अत्यंत सुखद रहेगा। अधूरे कार्यों में सफलता मिलेगी। स्वास्थ्य की दृष्टि से यह वर्ष उत्तम रहेगा। पारिवारिक मामलों में महत्वपूर्ण कार्य होंगे। अविवाहितों के लिए सुखद स्थिति बन रही है। विवाह के योग बनेंगे। नौकरीपेशा के लिए समय उत्तम हैं। पदोन्नति के योग हैं। बेरोजगारों […]

विराट मन

विराट मन का प्रत्येक कण ज्ञान से परिपूर्ण है. यह जान लेने पर तुम खोजना बन्द कर देते हो. तुम्हारी खोज तब तक है जब तक तुम गुरु के पास न पहुंचो. तालाब के किनारे तक ही तुम चल कर जाते हो, पर तालाब में तुम चलते या दौड़ते नहीं- तुम तैरते हो, बहते हो. गुरु के पास आ जाने पर खोज समाप्त हो जाती है, तुम खिल जाते हो, […]

रिश्तों में शिकवों के ५ सॉल्यूशन

रिश्तों में शिकवों के ५ सॉल्यूशन १.अगर आप अपने स्वास्थ्य का ख्याल रखेंगी, तभी आप जीवनसाथी का भी बेहतर ढंग से ख्याल रख पाएंगी। इस तरह लड़ाई की स्थिति में आप खुद पर नियंत्रण बनाए रख सकेंगी एवं आपका पूरा ध्यान समस्या के समाधान पर होगा। इसलिए अपने खानपान में समुचित पोषण, प्रोटीन, विटामिन इत्यादि शामिल करें। भरपूर नींद लें, इससे आप तनाव से दूर रहेंगी और तरोताजा महसूस करेंगी। […]

 
Brahmin Social Network
ભારતના વિકાસની સાથો-સાથ બ્રાહ્મણોની જીવનશૈલી, વ્યાપારિક પધ્ધતિ અને અભ્યાસ, જ્ઞાનની પ્રાપ્તિ અને તેના માધ્યમોમાં આમૂલ પરિવર્તન જણાયું છે. સમય સાથે કદમ મેળવીને ચાલે તે માનવી પ્રગતિના સર્વોત્તમ શિખરે પહોંચે છે, આ ઉક્તિને સાર્થક કરતા હોય તેમ બ્રાહ્મણો વધુ કોર્પોરેટ બની રહ્યા છે અને આધુનિક વિજ્ઞાનની સાથે જોડાઇને વિકાસ સાધી રહ્યા છે. બ્રાહ્મસમાજ માટે આ અમારો સ્વતંત્ર અને અલાયદો પ્રયાસ છે. જેને બ્રાહ્મણ મિત્રો, વાંચકો અને નેટ સર્ફર વધાવી લેશે તેવી આશા છે. brahm-samaj--requirement-ad
 
Spread the Word - brahm samaj
 
market decides
 
Brahmin Social Network
 
Sponsors
 
jeevanshailee
 
 
 
Brahm Samaj Events